International
July 19, 2023

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार को जो फ़ैसला लिया है, उसका असर पूरी दुनिया पर पड़ सकता है.

यूक्रेन ब्लैक सी यानी काला सागर के ज़रिए अनाज का सुरक्षित निर्यात कर रहा था लेकिन रूस अब इस समझौते से पीछे हट गया है. रूस के पीछे हटने से यह समझौता अब ख़त्म हो गया है.

रूस ने सोमवार को संयुक्त राष्ट्र, तुर्की और यूक्रेन को बताया है कि वो इस समझौते को आगे नहीं बढ़ायेगा. रूस ने पश्चिमी देशों पर अपने हिस्से की ज़िम्मेदारी ना निभाने के आरोप लगाये हैं.

रूस के इस फ़ैसले की वैश्विक नेताओं ने ये कहते हुए आलोचना की है कि इससे दुनिया के सबसे ग़रीब देश प्रभावित होंगे.

ये समझौता इंस्ताबुल के समयानुसार मंगलवार रात 12 बजे समाप्त हो जाएगा.

इस समझौते के बाद मालवाहक जहाज़ काले सागर पर बसे बंदरगाहों ओडेसा, कोर्नोमोर्स्क और युज़्नी/पिव्डेन्यी से गुज़र रहे थे.

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन लंबे समय से ये शिकायत करते रहे थे कि रूस को अपने खाद्य पदार्थ और फ़र्टीलाइज़र निर्यात करने की अनुमति देने वाले समझौते के हिस्सों का पालन नहीं किया जा रहा है. उन्होंने ख़ासतौर पर कहा है कि, इस समझौते की शर्त थी कि ग़रीब देशों को अनाज दिया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

रूस ने बार-बार ये शिकायत भी की है कि पश्चिमी प्रतिबंधों की वजह से वो अपने कृषि उत्पादों को निर्यात नहीं कर पा रहा है. पुतिन ने कई बार इस समझौते को तोड़ने की धमकी भी दी थी.

रूस के विदेश मंत्रालय ने सोमवार को अपनी इन शिकायतों को फिर से दोहराते हुए कहा कि पश्चिमी देशों ने ‘खुलेआम हमला किया है’ और अपने व्यावसायिक हितों को मानवीय उद्देश्यों से ऊपर रखा है.

Categories International

Leave a comment